नगर पालिका द्वारा मुजफरनगर से बुलाई गई चार सदस्य टीम ने अभियान चलाते हुए दूसरे दिन 10 खूंखार बंदरो को पकड लिया । तीन दिन पहले मोहल्ला आलकला निवासी भाजपा नेता अनिल चौहान की पत्नी व पूर्व जिला पंचायत सदस्य सुषमा देवी पर बंदरों के झूंड ने हमला कर दिया था । जिस कारण सुषमा देवी की छत से गिर कर दर्दना क मौत हो गई थी ।

डीएम जसजीत कौर के निर्देश पर नगर पालिका के कार्यवाहक अधिशासी अधिकारी एसडीएम उदभव त्रिपाठी द्वारा बृहस्पतिवार बंदरो को पकडने के लिए मुजफरनगर से 4 सदस्य टीम को बुलाया गया था । शुक्रवार को दूसरे दिन टीम ने कैराना कोतवाली परिसर में मौजूद बंदरों को पकड़ने के लिए अभियान चलाया । टीम ने बंदरों को पकड़ने के लिए केले व चने डाले। जिसके बाद बंदरों के ऊपर जाल फेंक कर उनको पकड़ लिया । बाद में जाल से निकालकर 10 खूंखार बंदरों को बड़े पिंजरे में बंद किया गया । बाद में बंदरों को नगर से बाहर जंगल में करीब 20 किलोमीटर की दूरी पर छोड़ा गया । अधिशासी अधिकारी उद्भव त्रिपाठी ने बताया कि बंदर पकड़ने का अभियान लगाता र जारी रहेंगा ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *